GetJobUpdate

Get Latest Information Related to G-Suit and Google World


Motherboard क्या है और ये कैसे काम करता है? पूरी जानकारी

motherboard kya hai

हेलो दोस्तों! आपने कभी ना कभी Motherboard का नाम तो सुना ही होगा जब भी हम लोग कंप्यूटर चलाते हैं या फिर कंप्यूटर के बारे में सीखते हैं तो Motherboard का जिक्र हमेशा होता है हम सभी के मन में यह सवाल हमेशा आता है कि आखिरकार Motherboard क्या है और कैसे काम करता है अगर आपके मन में भी यह सवाल आता है।

तो आज आप बिल्कुल सही जगह पर आए हो आज मैं आपको इस आर्टिकल में मदरबोर्ड क्या है उसके बारे में पूरा Details से बताने वाला हूं यह आर्टिकल आखिरी बहुत काम का है इसलिए इस आर्टिकल को पूरा अंत तक जरूर पढ़ें। दोस्तों अगर मैं आपको आसान भाषा में समझाऊं तो मदरबोर्ड कंप्यूटर का एक Supportive हिस्सा कह सकते हैं।

अगर मदरबोर्ड ना हो तो आपका कंप्यूटर चलना नामुमकिन सा हो जाता है मदरबोर्ड के मदद से ही कंप्यूटर में सारे फंक्शन और सारे जिसे पूरी हो पाती है। आपने कभी ना कभी एक ऐसा Equipment को जरूर देखा होगा जिससे कि सारे Equipment में जुड़े रहते हैं। और सारे जुड़े हुए Equipment से Components को एक साथ जोड़ कर रखें उसे ही Motherboard कहा जाता है।

लेकिन अगर बात करें आज की तो आजकल मदरबोर्ड में काफी सारे बदलाव नए-नए आ चुके हैं जिसमें काफी अच्छे-अच्छे फीचर्स को जोड़ा गया है जिसकी वजह से कंप्यूटर्स की कैपेसिटी को काफी ज्यादा बढ़ा दिया गया है तो आइए मैं आपको और जानकारी देने की कोशिश करता हूं कि आखिरकार मदरबोर्ड क्या है और यह कैसे काम करता है।

मदरबोर्ड क्या है? What is Motherboard in Hindi

Motherboard कंप्यूटर का एक बहुत ही महत्वपूर्ण हिस्सा होता है जिसके द्वारा कंप्यूटर के सारे कार्य को पूरा किया जाता है अगर हमारे कंप्यूटर में मदरबोर्ड ना हो तो हम कोई भी उपकरण को पूरा नहीं कर सकते हैं या फिर किसी भी कार्य को पूरा नहीं किया जा सकता है। मदरबोर्ड ही कंप्यूटर का आधा हिस्सा होता है और मदरबोर्ड कंप्यूटर के सभी Parts के अंदर Power Supplu करने का काम करता है।

बहुत सारे लोग मदरबोर्ड को कंप्यूटर का एक बहुत बड़ा Hub के नाम से भी बुलाते हैं क्योंकि कंप्यूटर में जितनी भी डिवाइस जुड़े होते हैं वह सभी डिवाइस मदरबोर्ड से भी जुड़े रहते हैं मदरबोर्ड में अलग-अलग कंप्यूटर उपकरणों को कनेक्ट करने के लिए अलग-अलग Port या फिर से Slot बने होते हैं जिसकी वजह से मदरबोर्ड से पावर सप्लाई किया जाता है और कंप्यूटर में सारे कार्य बहुत अच्छे से पुरे हो पाते हैं।

अगर बात करें हम मदरबोर्ड की बनावट की तो मदरबोर्ड एक बहुत ही मजबूत प्लास्टिक का बना होता है जो कि आसानी से बिल्कुल भी नहीं टूटता है। मदरबोर्ड ज्यादा बड़ा नहीं होता है और इसके Sheet मैं Copper और Aluminum की पतली सी परत चिराई रहती है जिसकी वजह से सारे कार्य बहुत ही तेजी से और आसानी से पुरे हो पाते हैं।

दोस्तों मदरबोर्ड से जुड़े कुछ जरूरी Equipment जैसे कि CPU, RAM, Hard Disk और Hardware Devices जैसे Keyword, Mouse, Monitor, USB Devices इत्यादि को जोड़ने के लिए एक Connectors शामिल होते हैं और देखा जाए तो कंप्यूटर में Power Sluppy करने से लेकर अन्य सारे Hardware Devices के बीच Commnicat करवाने का यह सारा काम मदरबोर्ड का होता है।

मदरबोर्ड के कार्य  – Functions of Motherboard in Hindi

जैसा कि मैंने आपको ऊपर बताया कि अगर कंप्यूटर में मदरबोर्ड ना हो तो कंप्यूटर को चलाना बहुत ही ज्यादा मुश्किल हो सकता है इसलिए मदर बोर्ड के कुछ ऐसे कार्य हैं जिसकी मदद से कंप्यूटर में सारे Functions को पूरे किए जाते हैं मैं आपको नीचे एक एक करके मदरबोर्ड के सारे कार्य के बारे में बड़े ही आसान भाषा में बताऊंगा तो चलिए जानते हैं।

Central Backbone

Central Backbone का मतलब यह है कि कंप्यूटर का एक बहुत ही बड़ा सपोर्ट मदरबोर्ड को माना जाता है अक्सर मदरबोर्ड को कंप्यूटर की है देर की हड्डी भी हो जाती है क्योंकि कंप्यूटर में जितने भी जरूरी Equipment होते हैं उन सभी को मदरबोर्ड पावर सप्लाई करता है तभी जाकर वह सारे Equipment बड़े ही आसानी से और तेजी से काम करते हैं अगर मदरबोर्ड कंप्यूटर में ना हो तो आप किसी भी Hardware Devices को बिल्कुल नहीं चला सकते हैं।

External Peripherals के लिए Port प्रदान करता है

जितने भी बाहरी उपकरण होते है उन सभी को कंप्यूटर से जुड़ने के लिए मदरबोर्ड के अंदर कई सारे Expansion Port या फिर Slot लगे होते हैं। इन Slots की मदद से हम कंप्यूटर में Extra Expansion Card जैसे कि नेटवर्क कार्ड, साउंडकार्ड, फायरवायर कार्ड, एंथ्रनल कार्ड, लेन कार्ड इत्यादि को आपस में जोड़ सकते हैं।

Computer मैं Power Supply करने का काम

मदरबोर्ड का सबसे अहम काम होता है कंप्यूटर में पावर सप्लाई करने का कंप्यूटर के अलग-अलग हिस्सों के लिए बिजली की बहुत ज्यादा जरूरत होती है और इसीलिए मदरबोर्ड इन सारे जरूरतों को पूरा करता है। सबसे पहले Power Connector की मदद से मदरबोर्ड तक बिजली पहुंचती है उसके बाद मदरबोर्ड से जुड़े सभी Equipment मैं धीरे-धीरे पावर को सप्लाई किया जाता है जिसकी वजह से सारे Equipment बड़े ही आसानी से काम करते हैं।

Data Flow को Balance करता है

मदरबोर्ड से जुड़े सभी Equipments के लिए एक संचार केंद्र के रूप में यह काम करता है अगर मदरबोर्ड ना हो तो कंप्यूटर के अंदर जितने भी कार्य होते हैं वहां तक बिजली को नहीं पहुंचा जा सकता है जिसकी वजह से कोई भी Components काम नहीं करेंगे अगर इसे मैं आसान भाषा में आपको बताऊं तो मदरबोर्ड की मदद से कंप्यूटर के अंदर आपस में सारे Data को Receive और Send किया जाता है।

BIOS

BIOS प्रोग्राम कंप्यूटर में ही लगे होते हैं जिसे मदरबोर्ड बड़े आसानी से कंट्रोल कर पाता है जो मदरबोर्ड पर ROM Chips को लगाया जाता है वह काफी ज्यादा स्थित होता है और यह BIOS प्रोग्राम कंप्यूटर सिस्टम के Boot Process में काफी ज्यादा मदद करता है।

मदरबोर्ड के प्रकार – Types of Motherboard in Hindi

मदर बोर्ड क्या है और इसके कार्य क्या है इसके बारे में तो मैंने आपको बता दिया है लेकिन अब आपको यह भी जानना बहुत जरूरी है कि मदरबोर्ड के प्रकार कितने होते हैं। मदरबोर्ड सिर्फ अकेला Equipment नहीं होता है इसमें भी आपको कई तरह के प्रकार देखने को मिलते हैं इसके बारे में मैं आपको नीचे विस्तार से बताने वाला हूं।

AT Motherboard

मदरबोर्ड का सबसे पहला प्रकार AT Motherboard को माना जाता है कंप्यूटर में इस्तेमाल होने वाले सभी पुराने मदरबोर्ड में आपको AT Motherboard का नाम सुनने को मिल जाएगा बहुत लोग इसे “Full AT”के नाम से भी जानते हैं। सबसे पहले मैं आपको बताता हूं AT का फुल फॉर्म AT को Advance Technology कहते हैं अर्थात बोर्ड में जितने भी नए-नए टेक्नोलॉजी की पावर कनेक्टर मौजूद होते हैं उन सब में आए दिन कोई न कोई नए बदलाव होते रहते हैं।

मदरबोर्ड के प्रत्येक माउंट में कम से कम 6 Pin के 2 Power Connentor लगे होते हैं। मदरबोर्ड की लंबाई की बात करें तो यह तकरीबन 351mm लंबा होता है और अगर चौड़ाई की बात करें तो यह 305mm चौड़ाई होता है। मदरबोर्ड की आकार की बात करें तो यह ज्यादा बड़ा नहीं होता है लेकिन इसका आकार ज्यादा छोटा भी नहीं होता है अगर आपके पास छोटा सा Desktop है तो यह आपके Desktop में Fit नहीं होगा।

ATX Motherboard

साल 1990 के दशक में सबसे बड़ी कंप्यूटर की कंपनी Intel द्वारा ATX (Advance Technology Extended) Motherboard को बनाया गया था। यह पुराने वाले AT Motherboard से बिल्कुल अलग है पुराने वाले मदरबोर्ड के मुकाबले ATX मदर बोर्ड का ऑफिस ज्यादा अच्छा और छोटा आकार में होता है। इस प्रकार के मदरबोर्ड को Advanced तरीके से Control करने की सुविधा के लिए बनाया गया था।

Mini ITX Motherboard

इस तरीके के मदरबोर्ड को खासतौर पर छोटे Computer System के लिए बनाया गया है इसे साल 2001 में VIA Technologies द्वारा बनाया गया था। Mini ITX Motherboard कि अगर के बात करें तो यह काफी ज्यादा छोटा आकार में आता है इसकी लंबाई और चौड़ाई 6.7 Inches की होती है जो कि किसी भी अन्य मदरबोर्ड से काफी छोटा माना जाता है।

छोटे आकार और Fan-Less Colling के वजह से बाकी सभी मदर बोर्ड के मुकाबले में यह काफी कम Power Consumption लेता है। यह काफी छोटा और हल्का भी होता है इसके वजह से यह मदरबोर्ड काफी लंबा चलता है और कंप्यूटर में सारे फंक्शन में काफी ज्यादा तेजी

हेलो दोस्तों! आपने कभी ना कभी Motherboard का नाम तो सुना ही होगा जब भी हम लोग कंप्यूटर चलाते हैं या फिर कंप्यूटर के बारे में सीखते हैं तो Motherboard का जिक्र हमेशा होता है हम सभी के मन में यह सवाल हमेशा आता है कि आखिरकार Motherboard क्या है और कैसे काम करता है अगर आपके मन में भी यह सवाल आता है।

तो आज आप बिल्कुल सही जगह पर आए हो आज मैं आपको इस आर्टिकल में मदरबोर्ड क्या है उसके बारे में पूरा Details से बताने वाला हूं यह आर्टिकल आखिरी बहुत काम का है इसलिए इस आर्टिकल को पूरा अंत तक जरूर पढ़ें। दोस्तों अगर मैं आपको आसान भाषा में समझाऊं तो मदरबोर्ड कंप्यूटर का एक Supportive हिस्सा कह सकते हैं।

अगर मदरबोर्ड ना हो तो आपका कंप्यूटर चलना नामुमकिन सा हो जाता है मदरबोर्ड के मदद से ही कंप्यूटर में सारे फंक्शन और सारे जिसे पूरी हो पाती है। आपने कभी ना कभी एक ऐसा Equipment को जरूर देखा होगा जिससे कि सारे Equipment में जुड़े रहते हैं। और सारे जुड़े हुए Equipment से Components को एक साथ जोड़ कर रखें उसे ही Motherboard कहा जाता है।

लेकिन अगर बात करें आज की तो आजकल मदरबोर्ड में काफी सारे बदलाव नए-नए आ चुके हैं जिसमें काफी अच्छे-अच्छे फीचर्स को जोड़ा गया है जिसकी वजह से कंप्यूटर्स की कैपेसिटी को काफी ज्यादा बढ़ा दिया गया है तो आइए मैं आपको और जानकारी देने की कोशिश करता हूं कि आखिरकार मदरबोर्ड क्या है और यह कैसे काम करता है।

मदरबोर्ड क्या है? What is Motherboard in Hindi

Motherboard कंप्यूटर का एक बहुत ही महत्वपूर्ण हिस्सा होता है जिसके द्वारा कंप्यूटर के सारे कार्य को पूरा किया जाता है अगर हमारे कंप्यूटर में मदरबोर्ड ना हो तो हम कोई भी उपकरण को पूरा नहीं कर सकते हैं या फिर किसी भी कार्य को पूरा नहीं किया जा सकता है। मदरबोर्ड ही कंप्यूटर का आधा हिस्सा होता है और मदरबोर्ड कंप्यूटर के सभी Parts के अंदर Power Supplu करने का काम करता है।

बहुत सारे लोग मदरबोर्ड को कंप्यूटर का एक बहुत बड़ा Hub के नाम से भी बुलाते हैं क्योंकि कंप्यूटर में जितनी भी डिवाइस जुड़े होते हैं वह सभी डिवाइस मदरबोर्ड से भी जुड़े रहते हैं मदरबोर्ड में अलग-अलग कंप्यूटर उपकरणों को कनेक्ट करने के लिए अलग-अलग Port या फिर से Slot बने होते हैं जिसकी वजह से मदरबोर्ड से पावर सप्लाई किया जाता है और कंप्यूटर में सारे कार्य बहुत अच्छे से पुरे हो पाते हैं।

अगर बात करें हम मदरबोर्ड की बनावट की तो मदरबोर्ड एक बहुत ही मजबूत प्लास्टिक का बना होता है जो कि आसानी से बिल्कुल भी नहीं टूटता है। मदरबोर्ड ज्यादा बड़ा नहीं होता है और इसके Sheet मैं Copper और Aluminum की पतली सी परत चिराई रहती है जिसकी वजह से सारे कार्य बहुत ही तेजी से और आसानी से पुरे हो पाते हैं।

दोस्तों मदरबोर्ड से जुड़े कुछ जरूरी Equipment जैसे कि CPU, RAM, Hard Disk और Hardware Devices जैसे Keyword, Mouse, Monitor, USB Devices इत्यादि को जोड़ने के लिए एक Connectors शामिल होते हैं और देखा जाए तो कंप्यूटर में Power Sluppy करने से लेकर अन्य सारे Hardware Devices के बीच Commnicat करवाने का यह सारा काम मदरबोर्ड का होता है।

मदरबोर्ड के कार्य  – Functions of Motherboard in Hindi

जैसा कि मैंने आपको ऊपर बताया कि अगर कंप्यूटर में मदरबोर्ड ना हो तो कंप्यूटर को चलाना बहुत ही ज्यादा मुश्किल हो सकता है इसलिए मदर बोर्ड के कुछ ऐसे कार्य हैं जिसकी मदद से कंप्यूटर में सारे Functions को पूरे किए जाते हैं मैं आपको नीचे एक एक करके मदरबोर्ड के सारे कार्य के बारे में बड़े ही आसान भाषा में बताऊंगा तो चलिए जानते हैं।

Central Backbone

Central Backbone का मतलब यह है कि कंप्यूटर का एक बहुत ही बड़ा सपोर्ट मदरबोर्ड को माना जाता है अक्सर मदरबोर्ड को कंप्यूटर की है देर की हड्डी भी हो जाती है क्योंकि कंप्यूटर में जितने भी जरूरी Equipment होते हैं उन सभी को मदरबोर्ड पावर सप्लाई करता है तभी जाकर वह सारे Equipment बड़े ही आसानी से और तेजी से काम करते हैं अगर मदरबोर्ड कंप्यूटर में ना हो तो आप किसी भी Hardware Devices को बिल्कुल नहीं चला सकते हैं।

External Peripherals के लिए Port प्रदान करता है

जितने भी बाहरी उपकरण होते है उन सभी को कंप्यूटर से जुड़ने के लिए मदरबोर्ड के अंदर कई सारे Expansion Port या फिर Slot लगे होते हैं। इन Slots की मदद से हम कंप्यूटर में Extra Expansion Card जैसे कि नेटवर्क कार्ड, साउंडकार्ड, फायरवायर कार्ड, एंथ्रनल कार्ड, लेन कार्ड इत्यादि को आपस में जोड़ सकते हैं।

Computer मैं Power Supply करने का काम

मदरबोर्ड का सबसे अहम काम होता है कंप्यूटर में पावर सप्लाई करने का कंप्यूटर के अलग-अलग हिस्सों के लिए बिजली की बहुत ज्यादा जरूरत होती है और इसीलिए मदरबोर्ड इन सारे जरूरतों को पूरा करता है। सबसे पहले Power Connector की मदद से मदरबोर्ड तक बिजली पहुंचती है उसके बाद मदरबोर्ड से जुड़े सभी Equipment मैं धीरे-धीरे पावर को सप्लाई किया जाता है जिसकी वजह से सारे Equipment बड़े ही आसानी से काम करते हैं।

Data Flow को Balance करता है

मदरबोर्ड से जुड़े सभी Equipments के लिए एक संचार केंद्र के रूप में यह काम करता है अगर मदरबोर्ड ना हो तो कंप्यूटर के अंदर जितने भी कार्य होते हैं वहां तक बिजली को नहीं पहुंचा जा सकता है जिसकी वजह से कोई भी Components काम नहीं करेंगे अगर इसे मैं आसान भाषा में आपको बताऊं तो मदरबोर्ड की मदद से कंप्यूटर के अंदर आपस में सारे Data को Receive और Send किया जाता है।

BIOS

BIOS प्रोग्राम कंप्यूटर में ही लगे होते हैं जिसे मदरबोर्ड बड़े आसानी से कंट्रोल कर पाता है जो मदरबोर्ड पर ROM Chips को लगाया जाता है वह काफी ज्यादा स्थित होता है और यह BIOS प्रोग्राम कंप्यूटर सिस्टम के Boot Process में काफी ज्यादा मदद करता है।

मदरबोर्ड के प्रकार – Types of Motherboard in Hindi

मदर बोर्ड क्या है और इसके कार्य क्या है इसके बारे में तो मैंने आपको बता दिया है लेकिन अब आपको यह भी जानना बहुत जरूरी है कि मदरबोर्ड के प्रकार कितने होते हैं। मदरबोर्ड सिर्फ अकेला Equipment नहीं होता है इसमें भी आपको कई तरह के प्रकार देखने को मिलते हैं इसके बारे में मैं आपको नीचे विस्तार से बताने वाला हूं।

AT Motherboard

मदरबोर्ड का सबसे पहला प्रकार AT Motherboard को माना जाता है कंप्यूटर में इस्तेमाल होने वाले सभी पुराने मदरबोर्ड में आपको AT Motherboard का नाम सुनने को मिल जाएगा बहुत लोग इसे “Full AT”के नाम से भी जानते हैं। सबसे पहले मैं आपको बताता हूं AT का फुल फॉर्म AT को Advance Technology कहते हैं अर्थात बोर्ड में जितने भी नए-नए टेक्नोलॉजी की पावर कनेक्टर मौजूद होते हैं उन सब में आए दिन कोई न कोई नए बदलाव होते रहते हैं।

मदरबोर्ड के प्रत्येक माउंट में कम से कम 6 Pin के 2 Power Connentor लगे होते हैं। मदरबोर्ड की लंबाई की बात करें तो यह तकरीबन 351mm लंबा होता है और अगर चौड़ाई की बात करें तो यह 305mm चौड़ाई होता है। मदरबोर्ड की आकार की बात करें तो यह ज्यादा बड़ा नहीं होता है लेकिन इसका आकार ज्यादा छोटा भी नहीं होता है अगर आपके पास छोटा सा Desktop है तो यह आपके Desktop में Fit नहीं होगा।

ATX Motherboard

साल 1990 के दशक में सबसे बड़ी कंप्यूटर की कंपनी Intel द्वारा ATX (Advance Technology Extended) Motherboard को बनाया गया था। यह पुराने वाले AT Motherboard से बिल्कुल अलग है पुराने वाले मदरबोर्ड के मुकाबले ATX मदर बोर्ड का ऑफिस ज्यादा अच्छा और छोटा आकार में होता है। इस प्रकार के मदरबोर्ड को Advanced तरीके से Control करने की सुविधा के लिए बनाया गया था।

Mini ITX Motherboard

इस तरीके के मदरबोर्ड को खासतौर पर छोटे Computer System के लिए बनाया गया है इसे साल 2001 में VIA Technologies द्वारा बनाया गया था। Mini ITX Motherboard कि अगर के बात करें तो यह काफी ज्यादा छोटा आकार में आता है इसकी लंबाई और चौड़ाई 6.7 Inches की होती है जो कि किसी भी अन्य मदरबोर्ड से काफी छोटा माना जाता है।

छोटे आकार और Fan-Less Colling के वजह से बाकी सभी मदर बोर्ड के मुकाबले में यह काफी कम Power Consumption लेता है। यह काफी छोटा और हल्का भी होता है इसके वजह से यह मदरबोर्ड काफी लंबा चलता है और कंप्यूटर में सारे फंक्शन में काफी ज्यादा तेजी से काम करता है।

मदरबोर्ड की विशेषताएं – Characteristics of Motherboard in Hindi

एक कंप्यूटर में मदरबोर्ड की मौत हो गई ज्यादा होती है क्योंकि मदरबोर्ड की मदद से कंप्यूटर के सारे Hardware Components मैं पावर सप्लाई जाती है और वह बच्चे से काम कर पाता है हालांकि कंप्यूटर के बेहतर कार्य करने के लिए हर एक Equipments का होना बहुत जरूरी है लेकिन मदरबोर्ड सबसे जरूरी Equipment होता है।

एक मदरबोर्ड सिर्फ Components को सिर्फ जगह प्रदान नहीं करता है उसी के साथ साथ हो सीपीयू के साथ कम्युनिकेट करने का भी कार्य करता है जिसकी मदद से वह डाटा को आपस में से कर पाते हैं इसी के साथ-साथ मदर बोर्ड में कई सारे ऐसे Port या फिर Slots लगे होते हैं जो एक External Device को कंप्यूटर से जोड़ने का काम करता है जिसके वजह से सारे डिवाइस बड़े अच्छे से काम कर पाते है।

मदरबोर्ड बनाने वाली कंपनियों के नाम

बाजार में ऐसे बहुत सारे बड़े-बड़े कंपनी से जो कि मदरबोर्ड को बनाती है जिसकी मदद से मदरबोर्ड समय-समय पर अपडेट होते रहता है और हम तक पहुंचते रहते हैं।

  • Intel
  • ASUS
  • Gigabytes
  • ACER
  • AMD
  • ESC

FAQs

मदरबोर्ड को किसने बनाया है?

दोस्तों मदरबोर्ड को बनाने वाले IBM के इंजीनियर Patty McHugh है।

मदरबोर्ड का दूसरा नाम क्या है?

मदरबोर्ड का दूसरा नाम मेनबोर्ड या फिर मेन सर्किट बोर्ड भी कहा जाता है।

मदरबोर्ड कितने प्रकार के होते हैं?

मदरबोर्ड आमतौर पर तीन प्रकार के होते हैं AT Motherboard, ATX Motherboard और Mini ITX Motherboard

मदरबोर्ड कंप्यूटर के लिए इतना महत्वपूर्ण क्यों है?

मदरबोर्ड कंप्यूटर के लिए महत्वपूर्ण इसलिए होता है क्योंकि अगर मदरबोर्ड ना हो तो कंप्यूटर को चलाना बहुत ही ज्यादा मुश्किल हो सकता है और शायद ही कंप्यूटर चलेगा क्योंकि कंप्यूटर को चलाने के लिए बहुत सारे अंदरूनी पावर सप्लाई की जरूरत पड़ती है और वह सभी मदरबोर्ड में पाया जाता है इसलिए मदरबोर्ड कंप्यूटर के लिए बहुत महत्वपूर्ण होता है।

Conclusion

तो आज हमने इस आर्टिकल में Motherboard क्या है और कैसे काम करता है इसके बारे में जाना। दोस्तों मुझे पूरी उम्मीद है कि आपको मेरा यार टिकट पसंद आया होगा और आप को इस आर्टिकल से थोड़ी मदद मिली होगी। मदर बोर्ड के बारे में जितनी भी जानकारी जरूरी थी वह सब हमने आपको इस आर्टिकल में पड़े ही आसान भाषा में समझाने की कोशिश की है ऐसे और भी अच्छे आर्टिकल को पढ़ने के लिए आप हमारे वेबसाइट पर आ सकते हैं धन्यवाद।

Updated: January 30, 2024 — 9:55 am

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

GetJobUpdate © 2024 Frontier Theme